“उरी – द सर्जिकल स्ट्राइक” को मिली अपार सफलता, विक्की कौशल से बढ़ी उम्मीदें

11 जनवरी 2019 को रिलीज हुई मूवी “उरी – द सर्जिकल स्ट्राइक” देखने के बाद हर इंसान अभिनेता विक्की कौशल के अभिनय की तारीफ करते नहीं थक रहा है. बात करें बॉक्स ऑफिस के लिहाज से तो “उरी – द सर्जिकल स्ट्राइक”  ने मंगलवार खत्म होते-होते 5 दिन में 50 करोड़ का आंकड़ा पार कर लिया , जिसके साथ ही वह इस साल की पहली हिट मूवी भी बन गई. साथ ही साथ उसने पिछले 2 हफ्ते से  बॉक्स ऑफिस पर चले आ रहे “सिम्बा” के प्रभुत्व को भी लगभग समाप्त कर दिया.

बात करें 2018 की तो विक्की कौशल दो बड़ी हिट मूवीज यानी “राजी” और “संजू” में नजर आए थे.  इसके अतिरिक्त वे अनुराग कश्यप की “मनमर्जियां” और नेटफ्लिक्स द्वारा प्रस्तुत लस्ट स्टोरीज में भी दिखाई दिए. इन मूवीस की रिलीज के बाद उन्हें दर्शकों और समीक्षकों दोनों से ही काफी प्रशंसा मिली. पर क्या आप जानते हैं कि अगर मैं अब से करीब एक वर्ष पूर्व की ही बात करूं तो लगभग कोई भी प्रशंसक “विक्की कौशल” नाम से खासा वाकिफ नहीं था.

2018 में एक शब्द “नेपोटिज्म” काफी प्रचलित रहा. इस शब्द का पहली बार जिक्र कंगना रनौत ने “कॉफी विद करण” में किया था. उनका कहना था की करण जौहर बॉलीवुड में नेपोटिज्म का परचम बुलंद किए हुए हैं, सीधा तात्पर्य यह था की करण जौहर बॉलीवुड में काम पाने के लिए उत्सुक टैलेंटेड यंग अभिनेता और अभिनेत्रियों के मुकाबले बॉलीवुड इंसाइडर्स यानी के प्रचलित अभिनेता और अभिनेत्रियों के बच्चों को ही लेने में दिलचस्पी रखते हैं.

वैसे विक्की कौशल स्टंट डायरेक्टर श्याम कौशल के सुपुत्र हैं, इस लिहाज़ से वे भी बॉलीवुड इनसाइडर ही हैं. उन्होंने अपने उपनाम यानी कि पिता के नाम का सहारा लिए बगैर संघर्ष करने के जटिल मार्ग का चुनाव किया. उन्होंने बॉलीवुड में काम पाने के लिए कई सारे ऑडिशन दिए और खासा संघर्ष किया. इस लिहाज से वे नेपोटिज्म की प्रचलित थ्योरी के उलट जाते हुए यह साबित करते हैं कि अगर आप में हुनर और इच्छा शक्ति है तो कोई भी मुकाम हासिल करना मुश्किल नहीं.

अगर अभिनय के संदर्भ में मैं बात करूं तो विक्की की पहली झलक 2012 में रिलीज हुई मूवी “लव शव ते चिकन खुराना” में दिखाई दी थी. इसके बाद वे “जुबान” और “रमन राघव” में भी दिखाई दिए, पर उन्हें बड़ा ब्रेक मिला 2015 में आई मूवी “मसान” से जिसमें उन्होंने एक स्मॉल टाउन ब्वॉय की भूमिका को बड़ी ही सरलता और बारीकी के साथ निभाया.

अगर में उनकी हालिया रिलीज मूवी “उरी – द सर्जिकल स्ट्राइक” की बात करता हूं तो यह कहना गलत नहीं होगा की यह उनकी बतौर लीडिंग एक्टर पहली बड़ी थेट्रीकल रिलीज है. उनकी पिछली सभी मूवीज, चाहे वह राजी हो या फिर संजू दोनों में ही वे बतौर सह-अभिनेता दिखाई दिए. जहां उनकी 2018 में आई “लव पर स्क्वायर फीट” Netflix की पहली भारतीय प्रस्तुति रही. वहीं
Netflix मूवी “लस्ट स्टोरीज” और “मनमर्जियां” में वे मल्टीस्टार कास्ट का एक हिस्सा रहे. हालांकि इन सभी मूवीज में विक्की ने बेहतरीन अभिनय करके अपनी अदायगी का लोहा मनवाया, पर उनकी हालिया रिलीज मूवी को मिली अपार सफलता उनके करियर के लिए एक मील का पत्थर साबित हो सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.